Call us +91 9571266258

Support

जिले के आठ बांधों में पानी आया, कई गांवों का संपर्क कटा

जिले के आठ बांधों में पानी आया, कई गांवों का संपर्क कटा

साेजत | शहर में दूसरे दिन भी बारिश का दाैर जारी रहा। जल संसाधन विभाग के सूत्राें के अनुसार उपखण्ड के पश्चिमी क्षेत्र में स्थित चाैपडा के राजसागर बांध में एक ही रात में 3.5 फीट पानी अाया है। इसके अलावा बिलाडा फीडर से पानी निकल चुका है। अब बांध तक पहुंचने का इंतजार है। इससे उम्मीद है कि राज सागर चाैपडा में पानी अाएगा। इसी तरह िबलावास, लुण्डावास, धाकडी, धीनावास, खारिया नींव, रेन्दडी, रामासनी बाला, मण्डला, रून्दिया, खाेखरा, धंधेडी, बागावास अादि गांवाें में भी अच्छी बारिश हुई है।

राणावास | कस्बे सहित ठाकुरवास, निम्बली,सिंचाना, सिरियारी, डिंगोर, फुलाद, गुड़ा सुरसिंह, मलसा बावड़ी, गादाना व रडावास अादि गांवाें में बारिश हुई। वहीं फुलाद बांध में 4.5 फीट पानी अाया।

आनंदपुर कालू | कस्बे में 2 दिन से हो रही बारिश से खेत खलिहान पानी से भर गए हैं। वही अच्छी बारिश होने से गांव के राम सरोवर तालाब पूरी तरह से भर गया। वहीं सुबह 11 बजे तालाब की चादर चली।

मुंडारा | कस्बे में शनिवार देर रात को करीबन डेढ़-दो घंटे जमकर बारिश होने से मुंडारा,शिवतलाव,डूंगरली,लाटाड़ा,भीटवाड़ा,लालराई गांवों के तालाबों में पानी की अच्छी आवक हुई है। लाटाडा बांध में दस फीट के करीब पानी की आवक हुई है। 33 फीट की क्षमता के लाटाडा बांध में 21 फीट के करीब भर गया है। डुंगरली नाला के पूरे वेग से बहने से कोट बालियान बांध में भी पानी की अच्छी आवक हुई है। मुंडारा की ढंडेश्वर नाड़ी, करणी माता नाड़ी मे भी पानी की आवक हुई है।

सादड़ी | अरावली की पहाड़ियाें में रविवार काे सवा चार इंच बारिश हुई। 62.70 फीट की भराव क्षमता वाले रणकपुर बांध में 8 फीट पानी की अावक हुई। वहीं बांध का जलस्तर 45 फीट तक पहुंच गया। जल संसाधन िवभाग के सहायक अभियंता ताराराम गहलाेत ने बताया िक 17 फीट की भराव क्षमता वाले जूणा मालारी बांध में 8.50 फीट ताे लाटाडा बांध का जलस्तर 22 फीट तक पहुंच गया।

बगड़ी नगर | कस्बे में रविवार काे हुई बारिश के बाद गजनाई बांध व तालाब में पानी की अावक हुई। गजनाई बांध का जलस्तर 15 फीट पहुंच गया।

बाली | कस्बे व देसूरी क्षेत्र में शनिवार की रात व रविवार की बारिश में 18 में से 5 बांधों में पानी आया है। रविवार काे बाली में 50 एमएम, देसूरी में 73 एमएम बारिश हुई।

बूसी | कस्बे सहित आसपास के गांवों में दो दिनों से लगातार बारिश हाे रही है। क्षेत्र के एनीकटाें, तालाबाें व नदी-नालाें में अावक शुरू हाे गई है।

सेंदड़ा. क्षेत्र में पिछले दो दिनों से हो रही बारिश के बाद रविवार को एनीकट में पानी बहने लगा।

सेंदड़ा-केसरपुरा-चिताड़़ मार्ग पर नदी में बहे युवक को ग्रामीणों ने बचाया

सेंदड़ा | मगरा क्षेत्र में बारिश का दौर जारी है बारिश से पूरे क्षेत्र में एनीकट व तालाब लबालब हो गए। सेंदड़ा की मुख्य नदी का भी वेग तेज हो गया। रामगढ़ सेडोतान का टाण्डा आदर्श तालाब ओवरफ्लो हो गया, जिससे घरों में पानी घुसने लग गया। रायपुर तहसीलदार नरेंद्रसिंह पंवार के निर्देश पर पटवारी रामेश्वरलाल व पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंचे व जेसीबी की मदद से पानी निकासी का मार्ग परिवर्तन करवाया। झाड़ली मानपुरा सरहद में नाैरत काठात,मस्तान काठात,किशन काठात का रहवासी मकान में रेल्वे के दोहरीकरण के कार्य के चलते पानी घुस गया। जिससे मकान गिरने की कगार पर है। कुरातिया निवासी विधवा कमला देवी के मकान में दरारें आ गई व मकान के सामने बना टीनशेड गिर गया। बोरवाड धोलिया की अधूरी सड़क क्षतिग्रस्त हो गई। सेंदड़ा नदी का वेग तेज हो गया। मार्ग क्राॅस करते समय एक युवक बह गया। जिसे ग्रामीणों ने बचा लिया। सेंदड़ा केसरपुरा चिताड़ मार्ग,झाला की चौकी काणुजा मार्ग करीब चार घंटे तक बाधित रहा। मगरा क्षेत्र में नदियां बहने लगी, तालाब एनीकट भी ओवरफ्लो हो गया। सेन्दड़ा-केसरपुरा मार्ग पर नदी का वेग तेज होने से दो बिजली के पोल गिर गए। ग्रामीणों की सूचना पर डिस्कॉम ने बिजली बंद कराई। बिजली के पोल गिरने से क्षेत्र में करीब तीन घंटे तक बिजली गुल रही।

बारिश का दौर जारी, मोहराई नदी में आया पानी

निमाज | कस्बे सहित आसपास के क्षेत्र में दूसरे दिन भी बारिश का दौर जारी रहा। चारों तरफ पानी-पानी हो गया। लगातार दो दिनों से जारी बारिश से कच्ची बस्ती के रहवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। लोगों के घरों में पानी टपकने लगा। कस्बे के मुख्य बस स्टैंड से लेकर राजकीय विद्यालय तक घुटनों से ऊपर तक पानी भरा रहा। मोहराई नदी में भी पानी की आवक शुरू हुई। दोपहर बाद नदी वैद्य से बहने लगी। महिलाओं ने मंगल गीत गा नदी को चुनरी ओढ़ाई।

तखतगढ़ | क्षेत्र में रविवार काे दूसरे दिन भी बारिश का दाैर जारी रहा। रविवार काे हुई बारिश के बाद तखतगढ़ तालाब और बलाना, गोगरा सहित आसपास के एनीकट पानी की की आवक हुई। वहीं नेशनल हाईवे 325 सीमेंटेड सड़क ऊंचा उठाने से प्राकृतिक बहाव में रुकावट के चलते सुमेरपुर रोड की ऊपरी बस्तियों में जल निकासी की व्यवस्था नहीं होने से सड़क और उन खेतों में पानी भर गया।

खिंवाड़ा में 70 मिमी बारिश

खिंवाड़ा | कस्बे सहित जोजावर, डायलाना कलां, बागोल, मगरतलाव, पनोता, कोट सोलंकिया, घेनड़ी व सिवास सहित कई गांवों में शनिवार की देर रात शुरू हुई बारिश रविवार को दिन भर कभी तेज तो कभी धीरे धीरे जारी रही।

आऊवा | क्षेत्र में रविवार काे दूसरे दिन भी बारिश का दाैर जारी रही। कुंडल सरोवर में बारिश से तालाब में पानी आने से ग्रामीण खुश नजर अाए। साथ ही आऊवा से देवली सड़क मार्ग जाम हो गया। स्टेट हाईवे मार्ग बंद होने के कारण मुख्य सड़क की रपट का कार्य अधूरा होने के कारण सड़क पर पानी का जमाव शुरु हो गया, जिससे रास्ता जाम हाे गया।

रानी | नगर सहित आसपास के ग्रामीण इलाकों में शनिवार रात से हाे रही बारिश से कई स्थानाें पर पानी भर गया। बारिश के कारण निर्माणाधीन अंडरब्रिज,रेलवे फाटक के दोनों साइड, धर्मवीर मैदान रोड, छोटी पुलिया सहित अन्य स्थानों पर पानी का भराव होने के कारण लोगों को परेशानी हाे रही है। मौसम विभाग द्वारा तहसील रानी में बाढ़ बचाओ नियंत्रण कक्ष बनाया गया, लेकिन यहां पर फाेन रिसीव करने वाला काेई नहीं है।

देसूरी | तहसील में 73 एमएम बरसात हुई। वहीं अभी तक बांधाें में पानी की अावक नहीं हुई है।

मारवाड़ जंक्शन क्षेत्र में हुई 4 इंच से ज्यादा बारिश

मारवाड़ जंक्शन | कस्बे सहित क्षेत्र भर में शनिवार रात्रि से जारी बारिश से हर जगह पानी ही पानी हो गया। जानकारी के अनुसार शनिवार रात से रविवार शाम 5 बजे तक मारवाड़ जंक्शन क्षेत्र में कुल 104 एमएम बारिश दर्ज की गई। जलदाय विभाग के सहायक अभियंता महेंद्र किराड़ ने बताया कि बरसात के बाद कई बांधों में पानी की आवक शुरू हुई है, जिसमें कंटालिया बांध में 3.7 मीटर, फुलाद बांध में 5.2 फीट व सिरियारी बांध में भी पानी की आवक हुई। वहीं क्षेत्र में दिनभर चली बारिश के बाद कई जगह जलभराव की स्थिति भी बन गई। यहां कस्बे के काजीपुरा मोहल्ले में भी जलभराव की स्थिति बन गई।

चौपड़ा के राजगसार बांध में अाया पानी

रेलवे अण्डरब्रिज में भरा पानी, तहसीलदार ने अण्डरब्रिज खाली करके यातायात सुचारु करने के दिए निर्देश

मारवाड़ जंक्शन | कस्बे के अजेमरी रेलवे फाटक के पास बने अण्डरब्रिज व पाली बाईपास के साथ धारेश्वर,झांझरिया हनुमानजी फाटक के पास,धामली सहित क्षेत्र में बने अण्डरब्रिज में भरे बरसाती पानी को लेकर अब प्रशासन ने रेलवे अधिकारियों से बात कर समस्या के समाधान की बात कही। क्षेत्र भर में बने हुए अण्डरब्रिज में बरसाती जलभराव के कारण आवागमन बाधित होने एंव गांवों का सम्पर्क टूटने को लेकर तहसीलदार माधोराम पुरोहित ने रेलवे के अधिकारियों से वार्ता कर जल्द अण्डरब्रिज के पानी को खाली करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि अण्डरब्रिज के जलभराव से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बगड़ी नगर | सोजत रोड मार्ग पर बने अंडरग्राउंड रेलवे पुल के नीचे बरसात का पानी भर जाने से आसपास के ग्रामीणों काे परेशानी हुई। पहली बरसात में पानी भर जाने से स्थानीय लोगों को आने-जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

कंटालिया बांध में 3.25मीटर, गजनई में 2.75मीटर पानी आया

सोजत रोड | क्षेत्र में गत दो दिनों से हो रही अच्छी बारिश से आमजन खुश है। शनिवार व रविवार को दिन भर रुक रुक कर बारिश का दौर जारी रहा। जलदाय विभाग के सूत्रों के अनुसार मगरा क्षेत्र में हुई बारिश से बांधों में भी पानी की आवक शुरू हो गई है। सोजत रोड व मारवाड़ जंक्शन उपखंड के कुछ गांवों का प्रमुख पेयजल स्रोत 7 मीटर की क्षमता वाले कंटालिया बांध में रविवार तक 3.25 मीटर पानी पहुच चुका है। वहीं 10 मीटर की क्षमता वाले गजनई बांध में 2.75 मीटर पानी की आवक हुई। बारिश जारी रहने से बांधों में भी पानी की आवक जारी है। समीप के धारेश्वर महादेव क्षेत्र में हुई अच्छी बारिश से गुड़ा श्याम व हरिया माली तक नदी में पानी की आवक हुई है। इसी नदी का पानी मेलावास दादिया होते हुए सोजत रोड सुकड़ी नदीं में पहुंचता है। ग्रामीण सुकड़ी नदी में पानी पहुंचने का इंतजार कर रहे हैं। इधर, कस्बे के सुभाष मार्ग,मालियों का बास,फुलाद रोड,विनोद नगर व निचली बस्तियों में पानी की निकासी की पर्याप्त व्यवस्था नहीं होने से बारिश का पानी जमा हो गया है।

post a comment