Call us +91 9571266258

Support

News

चक्रवात ‘महा’ का असर, प्रदेश के 13 जिलाें में भारी बारिश की चेतावनी

अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान ‘महा’ का राजस्थान पर भी पड़ेगा असर .

अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान ‘महा’ का राजस्थान पर भी असर पड़ेगा। माैसम विभाग के अनुसार चक्रवात ‘महा’ तेजी से तटीय इलाकाें की तरफ बढ़ रहा है। यह 6 नवंबर की रात गुजरात व महाराष्ट्र के तटीय इलाकाें से टकराएगा। इससेे दक्षिणी-पूर्वी इलाकाें में लाे प्रेशर एरिया डवलप हाेगा अौर 7 नवंबर काे प्रदेश के कई जिलाें में बारिश हो सकती हैं। 80-100 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। माैसम विभाग ने प्रदेश के 13 जिलाें में येलाे अलर्ट यानी तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है। इनमेें काेटा, बारां, झालावाड़, टाेंक, उदयपुर, पाली, राजसमंद, डूंगरपुर, प्रतापगढ़ सहित 13 जिले शामिल हैं।

इस दाैरान तेज हवाएं भी चलेंगी। हालांकि चक्रवात का असर एक ही दिन रहने की संभावना है। फिलहाल माैसम विभाग चक्रवात महा की मूवमेंट पर नजर बनाए हुए हैं।

Jio का फिर से बड़ा ऐलान, अब इन यूजर्स को नहीं देने होंगे कॉलिंग के पैसे

Reliance Jio ने अपने कस्टमर्स से नॉन जियो कॉलिंग पर पैसे लेने का फैसला किया है.


लेकिन अब तक लोगों को ये कन्फ्यूजन थी कि ये कब से लागू होगा. रिलायंस जियो के एक स्टेटमेंट आया है जिसके बाद अब लोगों को इस महत्वपूर्ण सवाल का जवाब मिल गया है रिलायंस जियो ने कहा है कि जिन कस्टमर्स ने 9 अक्टूबर से पहले अपने नंबर पर रिचार्ज कराया था वो नॉन जियो यूजर्स को भी फ्री कॉल कर पाएंगे. लेकिन जैसे ही ये प्लान एक्स्पायर होगा आपको नॉन जियो कॉलिंग के लिए पैसे देने होंगे.



Reliance Jio ने एक ट्वीट किया है. इसमें कंपनी ने कहा है, ‘अगर आपने 9 अक्टूबर या इससे पहले रिचार्ज कराया है तो आप फ्री कॉल कर सकेंगे (नॉन जियो कस्टमर्स) को भी. जब तक आपका प्लान एक्स्पायर नहीं हो जाता है’ रिलायंस जियो के सबसे पॉपुलर प्लान की वैलिडिटी 84 दिन की है. लेकिन कुछ पैक्स एक साल की वैलिडिटी वाले हैं, तो क्या एक साल तक नॉन जियो कस्टमर्स पर कॉलिंग के पैसे नहीं देने होंगे? Reliance Jio ने एक ट्वीट किया है. इसमें कंपनी ने कहा है, ‘अगर आपने 9 अक्टूबर या इससे पहले रिचार्ज कराया है तो आप फ्री कॉल कर सकेंगे (नॉन जियो कस्टमर्स) को भी. जब तक आपका प्लान एक्स्पायर नहीं हो जाता है’

रिलायंस जियो के सबसे पॉपुलर प्लान की वैलिडिटी 84 दिन की है. लेकिन कुछ पैक्स एक साल की वैलिडिटी वाले हैं, तो क्या एक साल तक नॉन जियो कस्टमर्स पर कॉलिंग के पैसे नहीं देने होंगे? गौरतलब है कि TRAI ने जब IUC यानी Interconnect Usage Charge को 2017 में 14 पैसे से घटा कर 6 पैसे किया था तब कहा था कि इस साल के आखिर तक इसे 0 किया जा सकता है.



अगर आपके जियो प्लान की वैलिडिटी तीन महीने की है और आपने 9 अक्टूबर से पहले रिचार्ज कराया है तो मुमकिन है आगे भी आप फ्री नॉन जियो कॉलिंग कर पाएं, क्योंकि अगर TRAI IUC को जीरो करता है तो जियो से नॉन जियो कॉलिंग भी फ्री हो जाएगी. अगर आपके जियो प्लान की वैलिडिटी तीन महीने की है और आपने 9 अक्टूबर से पहले रिचार्ज कराया है तो मुमकिन है आगे भी आप फ्री नॉन जियो कॉलिंग कर पाएं, क्योंकि अगर TRAI IUC को जीरो करता है तो जियो से नॉन जियो कॉलिंग भी फ्री हो जाएगी. [...]

read more

विश्व प्रसिद्ध सोजत की ‘हिना’ की आड़ में अफीम तस्करी, देश के कई राज्यों से जुड़े हैं यहां के तस्करों के तार

sojat mehandi (1)

- राजस्थान से दक्षिणी प्रांत के राज्यों में होती है अफीम तस्करी

- सोजत अपहरण कांड के दौरान पुलिस को लगी भनक

- कर्नाटक, चैन्नई, हैदराबाद, पूणे में अफीम की भारी मांग, मारवाड़ से जुड़े हैं तार

- सोजत से बड़ी मात्रा में मेहंदी के पैकेट में पैकिंग कर भेजी जा रही है अफीम

अफीम तस्करों ने तस्करी के लिए अब विश्व प्रसिद्ध सोजत की मेहंदी (हिना) का सहारा ले लिया है। देश के दक्षिणी राज्य [ Southern states ] कर्नाटक, तेलंगाना, चैन्नई, पुणे में अफीम की जबदस्त मांग रहती है, ऐसे में मारवाड़ [ Marwar ] के इलाकों के अफीम तस्कर सोजत की मेहंदी के पैकेट में अफीम पैकिंग कर इन राज्यों में भेज रहे हैं। ये तस्करी ट्रांसपोर्ट के जरिए हो रही, जिसकी अब तक किसी को जानकारी नहीं है। हाल ही में सोजत में लेन-देन की बात को लेकर मेहंदी व्यापारी का अपहरण कर 15 लाख की फिरौती वसूलने के मामले की जांच के दौरान कुछ इस तरह के क्लू पुलिस को मिले हैं। कुछ ऐसे नाम भी पुलिस के सामने आए है, जो मेहंदी पैकेट की आड़ में तस्करी कर रहे हैं। पुलिस इस नेटवर्क को पकडऩे का प्रयास कर रही है।

तस्करी ऐसे कि किसी को शक न हो


पाली, जालोर, सिरोही, जोधपुर, बाड़मेर जिलों के लाखों प्रवासी हैदराबाद, बेंगलूरु, चैन्नई, पुणे, तेलंगाना आदि क्षेत्रों में रहते हैं। यहां अफीम की भी भारी मांग रहती है। सोजत की मेहंदी भी देशभर में लोकप्रिय है। सोजत से करोड़ों रुपए का माल दक्षिणी प्रांतों में जाता है। इसका फायदा उठाते हुए अफीम तस्करों ने इन मेहंदी पैकेट के बीच

[...]

read more

मेहंदी व्यापारी का अपहरण कर मांगी 25 लाख की फिरौती, वसूले 15 लाख, पुलिस ने पांच आरोपियों को दबोचा

जिले के सोजत सिटी [ Sojat City ] में मंगलवार को एक मेहंदी व्यापारी का आठ जनों ने मिलकर अपहरण [ kidnapped of mehndi trader ] कार सहित अपहरण कर लिया। फिरौती के रूप में 25 लाख रुपए मांगे। 15 लाख रुपए उसके परिजनों से सोजत में ही वसूल लिए। बाकी दस लाख रुपए के लिए अपहरणकर्ता [ Kidnapper ] उसे कार में लेकर पाली आए। जहां पुलिस [ pali police ] ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर दो कारें व 15 लाख रुपए बरामद कर लिए हैं। तीन आरोपियों को नामजद कर लिया गया है। उनकी तलाश जारी है। प्रारंभिक जांच में मामला लेन-देन का बताया जा रहा है। देर रात तक मामले की जांच जारी थी।

व्यापारी के मोबाइल से ही कॉल कर रुपए मंगवाए


पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा [ Superintendent of Police Anand Sharma ] के अनुसार सोजत सिटी के मालियों का बड़ा निवासी पचीस वषीय रंजीत पालरिया (माली) पुत्र गणपताल, जो मेहंदी व्यापारी है। वह दोपहर करीब 12 बजे अपने निर्माणाधीन मकान पर कार से जा रहा था। रास्ते में कुछ लोग कार में सवार होकर आए और रंजीत का उसकी कार सहित अपहरण कर लिया। व्यापारी को अपहरणकर्ताओं ने खुद की कार में बैठा दिया और उसकी कार अपने साथियों को दे दी। इसके बाद उससे 25 लाख रुपए फिरौती के मांगे। व्यापारी के मोबाइल से उसके परिजनों से बात करवाई और रुपए की व्यवस्था करने को कहा। इस दौरान कार में व्यापारी को पीटा। परिजनों ने 15 लाख रुपए की रकम एकत्रित कर अपहरणकर्ताओं द्वारा बताई गई एक किराणा की दुकान पर दिए। इसके बाद व्यापारी से बाकी के दस लाख रुपए मांगे। व्यापारी ने पाली शहर के पुरानी सब्जी मंडी निवासी अपने मामा को कॉल कर आपबीती बताई। इस पर मामा प्रवीण माली ने भी दस लाख रुपए की व्यवस्था कर ली और अपहरणकर्ताओं को पेमेंट लेने के लिए पाली बुलाया। अपहरणकर्ता दोनों कारें व रंजीत को साथ में लेकर दस लाख रुपए लेने पाली के पुराना बस स्टैण्ड पहुंचे। [...]

read more

ब्यावर का आरोपी पाली व सोजत में कोचिंग सेंटर की आड़ में चला रहा था नकल गिरोह, एसओजी ने पकड़ा

जयपुर एसओजी की एक टीम ने रविवार को जोधपुर में आयोजित सेना भर्ती परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह के मुख्य सूत्रधार सुशील शर्मा पुत्र बजरंग शर्मा निवासी मसूदा रोड अभिषेक नगर, ब्यावर को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने आकाश क्लासेज के नाम से पाली व सोजत में कोचिंग सेंटर खोल रखा है। एसओजी ने आरोपी को रंगे हाथों पकड़ने के लिए डिकॉय कर सेना भर्ती में पास कराने के लिए आरोपी सुशील शर्मा से संपर्क कर 3 लाख रुपए में सौदा तय किया। एडवांस के तौर पर 15 हजार रुपए देकर एसओजी ने उसे गिरफ्तार कर लिया। दोपहर बाद एसओजी ने पाली व सोजत स्थित आरोपी के कोचिंग सेंटर की तलाशी ली। तलाशी में वहां से भारी मात्रा में विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र, स्टांप, चैक व हिसाब-किताब के रजिस्टर बरामद किए हैं। आरोपी से पूछताछ कर गिरोह में शामिल अन्य आरोपियों का पता लगाया जा रहा है। एसओजी एवं एटीएस के अतिरिक्त महानिदेशक अनिल पालीवाल ने बताया कि मिलिट्री इंटेलीजेंस से एसओजी को इनपुट मिला था कि सेना भर्ती में कुछ लोग नकल गिरोह चला सकते हैं। ऐसे इनपुट के बाद जयपुर एसओजी विंग से इंस्पेक्टर सूर्यवीरसिंह, मनोज कुमार, उप निरीक्षक गोपाललाल, हैडकांस्टेबल हिम्मतसिंह के नेतृत्व में कांस्टेबल महेश कुमार, हेमराज, नारायणलाल, विनोद कुमार, कैलाशचंद्र, हजारी राम, जयकिशन मीणा, सुरेंद्रसिंह व हीरालाल की टीम गठित की गई। इस टीम ने छानबीन कर पाली व सोजत में आकाश क्लासेज के संचालक सुशील शर्मा द्वारा विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल करा पास कराने के गिरोह संचालक की जानकारी जुटाई।

आरोपी सुशील

सौदा 3 लाख में तय किया, परीक्षा से पहले 15 हजार लेते गिरफ्तार किया

पाली में स्थित कोचिंग सेंटर।

एसओजी व एटीएस के एडीजी अनिल पालीवाल ने बताया कि एसओजी ने ब्यावर निवासी सुशील शर्मा को पकड़ने के लिए सेना भर्ती परीक्षा में पास कराने के लिए डिकॉय किया तो आरोपी ने कहा कि वह रेलवे, डिस्कॉम, शिक्षक, कांस्टेबल इत्यादि परीक्षाओं में पास करवा देगा। आरोपी के दावे से एसओजी के अधिकारी भी एक बारगी सकते में आ गए।एसओजी ने आरोपी से सेना भर्ती परीक्षा में पास कराने के लिए 3 लाख रुपए में सौदा तय किया। एडवांस के तौर पर पहली किश्त के रुप में 15 हजार रुपए जोधपुर में आयोजित सेना भर्ती परीक्षा से पहले देना तय किया। जोधपुर में आरोपी पहुंचा और 15 हजार रुपए की किश्त हासिल की, जिसे एसओजी ने गिरफ्तार कर लिया।