Call us +91 9571266258

Support

Categories Archives: Technology

चंद्रयान-2 | व्हीकल सिस्टम में खराबी से 56 मिनट पहले लॉन्चिंग टली, इसरो ने कहा- जल्द नई तारीख तय करेंगे

व्हीकल सिस्टम में खराबी से 56 मिनट पहले लॉन्चिंग टली, इसरो ने कहा- जल्द नई तारीख तय करेंगे



  • चंद्रयान-2 को अक्टूबर 2018 में लॉन्च किया जाना था, लेकिन अब तक 4 बार मिशन की तारीख बदली गई

  • भारत के दूसरे मून मिशन में इस्तेमाल होने वाले रॉकेट और अन्य उपकरणों की लागत 978 करोड़ रुपए

  • इजराइल ने बीते फरवरी में मून मिशन भेजा था, उसकी लागत 1400 करोड़ रुपए थी


नई दिल्ली. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) ने चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग ऐन वक्त पर टाल दी। यह मिशन सोमवार रात 2.51 बजे लॉन्च होना था, लेकिन इससे कुछ देर पहले लॉन्चिंग व्हीकल सिस्टम में तकनीकी खराबी का पता चला। मिशन की शुरुआत से करीब 56 मिनट इसरो ने ट्वीट कर लॉन्चिंग आगे बढ़ाने का ऐलान कर दिया। इसरो के एसोसिएट डायरेक्टर (पब्लिक रिलेशन) बीआर गुरुप्रसाद ने बताया कि जल्द ही प्रक्षेपण की नई तारीख तय होगी। चंद्रयान मिशन को देखने के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी रात को श्रीहरिकोटा में थे।

इसरो चंद्रयान-2 को पहले अक्टूबर 2018 में लॉन्च करने वाला था। बाद में इसकी तारीख बढ़ाकर 3 जनवरी और फिर 31 जनवरी कर दी गई। लेकिन कुछ अन्य कारणों से इसे 15 जुलाई तक टाल दिया गया। इस दौरान बदलावों की वजह से चंद्रयान-2 का भार भी पहले से बढ़ गया। ऐसे में जीएसएलवी मार्क-3 में भी कुछ बदलाव किए गए थे।
चंद्रयान-2 मिशन क्या है? यह चंद्रयान-1 से कितना अलग है?

नई तारीख तय होने पर श्रीहरिकोटा के सतीश धवन सेंटर से चंद्रयान-2 को भारत के सबसे ताकतवर जीएसएलवी मार्क-III रॉकेट से लॉन्च किया जाएगा। चंद्रयान-2 वास्तव में चंद्रयान-1 मिशन का ही नया संस्करण है। इसमें ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) शामिल हैं। चंद्रयान-1 में सिर्फ ऑर्बिटर था, जो चंद्रमा की कक्षा में घूमता था। चंद्रयान-2 के जरिए भारत पहली बार चांद की सतह पर लैंडर उतारेगा। यह लैंडिंग चांद के दक्षिणी ध्रुव पर होगी। इसके साथ ही भारत चांद के दक्षिणी ध्रुव पर यान उतारने वाला पहला देश बन जाएगा।

दूसरे देशों द्वारा भेेजे गए मिशन से कितना सस्ता है चंद्रयान-2?




















यान



लागत



चंद्रयान-2



978 करोड़ रुपए



बेरशीट (इजराइल)



1400 करोड़ रुपए



चांग’ई-4 (चीन)



1200 करोड़



*इजराइल ने फरवरी 2019 में बेरशीट लॉन्च किया था, जो अप्रैल में लैंडिंग के वक्त क्रैश हो गया। चीन ने 7 दिसंबर 2018 को चांग’ई-4 लॉन्च किया था, जिसने 3 जनवरी को चांद की सतह पर सफल लैंडिंग की।

मिशन लॉन्च होने के बाद चंद्रयान-2 को पृथ्वी की कक्षा में जाने में कितना समय लगेगा?

मिशन को जीएसएलवी मार्क-III से भेजा जाएगा। रॉकेट को पृथ्वी की कक्षा में पहुंचने में 16 मिनट का समय लगेगा। इसे चांद की सतह तक पहुंचने में 1,296 घंटे यानी 54 दिन का समय लगेगा। [...]

read more

राजस्थान: 200 सीटों पर दो लाख EVM में बंद होगा प्रत्याशियों का भाग्य

EVM-Election

राजस्थान: 200 सीटों पर दो लाख EVM में बंद होगा प्रत्याशियों का भाग्य राजस्थान में विधानसभा चुनाव की तैयारियां पूरी हो गई हैं स्वतंत्र, निष्पक्ष और निर्भीक ढंग से वोटिंग कराने और पोलिंग बूथों पर [...]read moreराजस्थान: 200 सीटों पर दो लाख EVM में बंद होगा प्रत्याशियों का भाग्य

सोजत | शुरू होने जा रहा सोजत का पहला NEWS चेंनेल, बहुत जल्द आपकी T.V. स्क्रीन पर

सोजत के विकास की रफ्तार अब होगी और भी तेज़ सोजत के विकास की रफ्तार अब होगी और भी तेज़ क्योकि बहुत जल्द शुरू होने जा रहा हैं सोजत का पहला News चेंनेल  T.V. पर जो रखेगा आपको [...]read moreसोजत | शुरू होने जा रहा सोजत का पहला NEWS चेंनेल, बहुत जल्द आपकी T.V. स्क्रीन पर

10 अप्रैल को भारत बंद आरक्षण के खिलाफ, जानें सच्चाई इस वायरल मैसेज की

एससी- एसटी एक्ट में बदलाव के खिलाफ दलित संगठनों के भारत बंद के बाद अब 10 अप्रैल को आरक्षण के खिलाफ भारत बंद होने की खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है सोशल मीडिया [...]read more10 अप्रैल को भारत बंद आरक्षण के खिलाफ, जानें सच्चाई इस वायरल मैसेज की

हिंसक हुआ भारत बंद 10 राज्यों से रिपोर्ट बसें-दुकानें फूंकीं, पटरियां उखाड़ीं

हिंसक हुआ भारत बंद 10 राज्यों से रिपोर्ट बसें-दुकानें फूंकीं, पटरियां उखाड़ीं एससी/एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ देशभर में दलित संगठन विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. कई राज्यों में जुलूस निकाले जा [...]read moreहिंसक हुआ भारत बंद 10 राज्यों से रिपोर्ट बसें-दुकानें फूंकीं, पटरियां उखाड़ीं